Shayari Blogs

ना जाने किस बात की हमे  वो सज़ा देता है.
मेरी हँसती हुई आँखो को रुला देता है.
अब मुद्दत से खबर नही आती उनकी.
क्या इस तरह कोई अपनो को भुला देता है....

Digvijay 05 Jul 2016 ·

कोई ख्वाइश तेरी अधूरी ना रहे
चाहे जिसे तू उससे दूरी ना रहे,
खुशियो  के फूल इतने खिले तेरे जीवन मे
के हमारी याद भी तेरे लिए ज़रूरी ना रहे.... !!!

Digvijay 02 Jul 2016 ·

जब दिल उदास हो हमसे बात कर लेना,
जब दिल चाहे मुलाक़ात कर लेना,
रहते है आपके दिल के किसी कोने मे,
वक़्त मिले तो तलाश कर लेना..
 

Digvijay 28 Jun 2016 ·

तन्हाइयों में उन्हे याद करते हैं,
वो सलामत रहे यह फरियाद करते है,
उन्ही की शायरी का इंतेज़ार करते हैं,
उन्हे क्या पता हम उनसे कितना प्यार करते है.

Digvijay 23 Jun 2016 ·

कटाल कर के वो कातिल का नाम पूछते है, 

दर्द देकर वो दावा का नाम पूछते है, 

मर गये हम उनकी इस अदा पे, 

होकर मेरे खुदा वो मेरे रहनुमा का नाम पूछते है. 

Digvijay 22 Jun 2016 ·

बोहुत तमन्ना थी प्यार मे आशियाँ बनाने की,

बना चुके तो लग गयी नज़र ज़माने की.

उसी का क़र्ज़ है जो आज है आँखों मे आँसू,

सज़ा मिली है ह्यूम मुस्कुराने की........

 

Digvijay 21 Jun 2016 ·

किसी को तो हो मुझ को खोने का डर
कब तक मैं डरूँ की सब खो जायेगा

Digvijay 20 Jun 2016 ·

किसी को तो हो मुझ को खोने का डर
कब तक मैं डरूँ की सब खो जायेगा

Digvijay 20 Jun 2016 ·

कभी सोंचता हूँ उसकी नज़रों के सामने
मेरी मौत
हो,

और मुझे छूने का हक़ सिर्फ उसे ही ना
हो.

Digvijay 17 Jun 2016 ·

Dhalti shaam ka khula ehsaas hai,
mere dil mein teri jagah kuch khas hai,
tu nahi hai ye malum hai mujhe,
par dil ye kehta hai tu yahi aas paas hai..,

sanket 02 Apr 2016 ·
Page : <<2 3 4 5 6 7 ... 379 » »